AIADMK leader on Jayalalithaa biopic ‘Thalaivii’, Said-kangana ranaut Film had Some factual errors | कंगना रनोट की ‘थलाइवी’ के कुछ सीन को लेकर AIADMK ने जताई आपत्ति, पूर्व मंत्री डी. जयकुमार ने कहा-फिल्म में कुछ फैक्ट्स गलत दिखाए गए हैं


7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

एक्ट्रेस कंगना रनोट की फिल्म ‘थलाइवी’ 10 सितंबर (शुक्रवार) को रिलीज हुई है। यह फिल्म तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की बायोपिक है। कंगना रनोट फिल्म में जयललिता के किरदार में नजर आई हैं। इस फिल्म को फैंस और क्रिटिक्स से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही हैं। इस बीच जयललिता की पार्टी AIADMK के नेता और पूर्व मंत्री डी. जयकुमार का कहना है कि फिल्म में कुछ गलतियां हैं। जयकुमार ने कहा है कि ‘थलाइवी’ में कुछ फैक्ट्स गलत दिखाए गए हैं, उन्हें डिलीट किया जाना चाहिए।

फिल्म अच्छी बनी है, लेकिन कुछ सीन गलत तरीके से फिल्माए गए हैं
जयकुमार ने ‘थलाइवी’ देखने के बाद चेन्नई में सिनेमाघर के बाहर मीडिया से बात की। इस दौरान उन्होंने कहा, “फिल्म तो बहुत अच्छी बनी है, लेकिन कुछ सीन पार्टी के फाउंडर लीडर एमजी रामचंद्रन और जयललिता के गलत तरीके से फिल्माए गए हैं। फिल्म में एक सीन में दिखाया गया है कि एमजीआर सीएन अन्नादुराई की सरकार में मंत्री बनना चाहते थे। लेकिन एम करुणानिधि ने उनका रास्ता रोक दिया था। हालांकि, उस सरकार में एमजीआर कभी मंत्री पद चाहते ही नहीं थे।”

जयकुमार ने आगे कहा, “उस समय पर अन्नादुराई खुद एमजीआर को मंत्री बनाना चाहते थे। लेकिन एमजीआर ने खुद मंत्री बनने से इंकार कर दिया था। बाद में 1969 में अन्नादुराई के निधन के बाद एमजीआर ने खुद ही मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए करुणानिधि का नाम पार्टी के सामने रखा था। हालांकि, बाद में एमजीआर और करुणानिधि के बीच मतभेद हो गए थे और 1972 में एमजीआर ने AIADMK पार्टी का गठन किया था।”

जयललिता कभी भी एमजीआर के खिलाफ नहीं गईं थीं
जयकुमार ने फिल्म में एक दूसरे सीन के बारे में भी बात की। फिल्म में दिखाया गया है कि जयललिता ने एमजीआर की जानकारी के बिना इंदिरा गांधी और राजीव गांधी से संपर्क किया था। इस सीन पर जयकुमार ने कहा कि ऐसा कभी हुआ ही नहीं था और जयललिता कभी भी एमजीआर के खिलाफ नहीं गईं थीं। फिल्म में ऐसे सीन भी दिखाए गए हैं, जिनमें एमजीआर जयललिता का महत्व कम करने की कोशिश करते हैं। इस पर जयकुमार ने कहा कि यह भी सच नहीं है।”

ये सभी सीन हटा दिए जाते, तो फिल्म काफी सफल होती
जयकुमार ने कहा कि अगर फिल्म से ये सभी सीन हटा दिए जाते, तो यह काफी सफल होती। हालांकि, उन्होंने कहा कि फिल्म देखते हुए वे भावुक हो गए थे। उन्होंने अपील की है कि इन सभी सीन को फिल्म से डिलीट किया जाना चाहिए। बता दें कि, ए एल विजय द्वारा निर्देशित इस फिल्म में जयललिता के सफल सिनेमा और राजनीतिक करियर को दिखाया गया है। फिल्म में कंगना के अलावा अरविंद स्वामी और नासिर भी मुख्य भूमिकाओं में हैं। फिल्म में एमजीआर का किरदार अरविंद स्वामी ने निभाया है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email