Bikaner Hindi News Mgsu Bikaner – संभाग के 1200 कॉलेज विद्यार्थियों का कोरोना में अटका एक साल


संभाग के 1200 कॉलेज विद्यार्थियों का कोरोना में अटका एक साल

दिनेश स्वामी

बीकानेर. कोरोना की पहली और दूसरी लहर में कोरोना पॉजिटिव होने, परिवार के किसी सदस्य के संक्रमित होने अथवा कंटेंटमेंट जोन में फंसे १२०० कॉलेज विद्यार्थियों की पढ़ाई का एक साल दांव पर लगा हुआ है। महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के अधीन जिलों के इन विद्यार्थियों का अंतिम वर्ष का परीक्षा परिणाम जारी नहीं हुआ है। ना ही स्नातक प्रथम व द्वितीय तथा स्नातकोत्तर पूर्वाद्ध के विद्यार्थियों की भांति प्रमोट किया गया है। पिछले साल की परीक्षा अभी तक लम्बित होने के चलते शिक्षा सत्र २०२१-२२ में आगे की पढ़ाई के लिए प्रवेश से भी वंचित है।
पिछले साल कोरोना की पहली लहर के दौरान स्नातक अंतिम वर्ष और स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष की परीक्षाएं विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित की गई थी। उस समय कोरोना पॉजिटिव विद्यार्थी, जिनके परिवार के सदस्य पॉजिटिव है वह विद्यार्थी और कंटेंटमेंट जोन में घर होने की वजह से परीक्षा देने नहीं पहुंच पाने वाले विद्यार्थी परीक्षा नहीं दे पाए। साथ ही एलएलबी प्रथम व द्वितीय वर्ष के ४०० विद्यार्थयों की पूरक परीक्षाएं भी आयोजित नहीं हो पाई थी। एेसे विद्यार्थियों से एमजीएसयू विश्वविद्यालय ने मार्च में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन खोला। जिसमें परीक्षा देने से वंचित रहे १२०० विद्यार्थियों ने परीक्षा देने के लिए रजिस्ट्रेशन किया।

परीक्षा से पहले फिर लॉकडाउन
एमजीएसयू प्रशासन ने इस साल २८ अप्रेल से परीक्षा से वंचित विद्यार्थियों की परीक्षा लेने का टाइम टेबल जारी किया। प्रश्नपत्र भी छपकर तैयार हो गए। परीक्षा होती इससे पहले १८ अप्रेल को प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर की वजह से लॉकडाउन लग गया। जिसके चलते विश्वविद्यालय को परीक्षा स्थगित करनी पड़ी। विश्वविद्यालय ने स्नातक प्रथम व द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों तथा स्नातकोत्तर पूर्वाद्र्ध के विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया गया।

अंतिम वर्ष की परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों का भी परीक्षा परिणाम जारी हो गया। वे आगे की पढ़ाई के लिए विभिन्न संस्थानों की प्रवेश प्रक्रिया में भी शामिल हो गए। परन्तु खुद को ठगे से वह विद्यार्थी महसूस कर रहे है जो कोरोना की बाध्यताओं के चलते परीक्षा से वंचित रह गए। आगे की पढ़ाई के लिए प्रवेश भी नहीं ले पाए है।

अब २६ जुलाई से परीक्षा की तैयारी
एमजीएसयू के परीक्षा नियंत्रक राजाराम चोयल के अनुसार विश्वविद्यालय की कोरोना विशेष परीक्षा २०२० को २६ जुलाई २०२१ से कराया जाएगा। इसमें विश्वविद्यालय की ओर से पूर्व में आयोजित परीक्षा-२०२० में कोविड-१९ के कारण परीक्षा से वंचित रहे विद्यार्थी शामिल हो सकेंगे। विशेष परीक्षा की समय सारणी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है। विश्वविद्यालय के मीडिया प्रभारी बि_ल बिस्सा ने बताया कि विशेष परीक्षाओं के साथ एलएलबी प्रथम व द्वितीय वर्ष की पूरक परीक्षा भी २६ जुलाई से आयोजित की जाएगी।









Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email