Bird Smuggling Is Happening In The Country After Sleeping – Bird smuggling: सोने के बाद अब देश में हो रही है बर्ड तस्करी


राजधानी के विदेश डाकघर ( foreign post office ) में बर्ड तस्करी ( bird smuggling ) का मामला पकड़ में आया है। कस्टम विभाग ( Custom Department ) की टीम ने विदेश डाकघर में पार्सलों में जंगली पक्षियों की तस्करी ( smuggling of wild birds ) पकड़ी है। शुतुरमुर्ग के पंख ( Ostrich feathers ) और ग्रेटर बर्ड ऑफ पैराडाइज की तस्करी पकड़ी गई है।

जयपुर। राजधानी के विदेश डाकघर में बर्ड तस्करी का मामला पकड़ में आया है। कस्टम विभाग की टीम ने विदेश डाकघर में पार्सलों में जंगली पक्षियों की तस्करी पकड़ी है। शुतुरमुर्ग के पंख और ग्रेटर बर्ड ऑफ पैराडाइज की तस्करी पकड़ी गई है। कस्टम आयुक्त सुभाष चंद्र अग्रवाल ने बताया कि वन्यजीव के निर्यात पर वन्यजीव अधिनियम के तहत प्रतिबंध है। बर्ड तस्करी के मामले की प्रारंभिक जांच में कस्टम विभाग ने वन विभाग के अधिकारियों को भी शामिल किया है। वन विभाग के अधिकारियों ने शुतुरमुर्ग के पंख और ग्रेटर बर्ड ऑफ पैराडाइज जीवों के अंग होने की पुष्टि की है। जांच में आरोपियों के पास आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। वहीं इस पूरे मामले को लेकर वन विभाग की टीम भी जांच पड़ताल कर रही है। इसके साथ ही यह पता लगाने का भी प्रयास किया जा रहा है कि पक्षियों की तस्करी कब से की जा रही है और कहां पर इनकी सप्लाई की जाती है। इसके साथ ही डाकघर में अन्य पार्सलों की भी जांच पड़ताल की जा रही है।
मिक्सर ग्राइंडर में छिपाकर लाया 1.5 किलो सोना
कस्टम विभाग ने दुबई से जयपुर तस्करी कर लाया जा रहा 69 लाख का सोना पकड़ा। कस्टम अधिकारियों के अनुसार यात्री तलाशी के दौरान संदिग्ध गतिविधियां दिखने पर गहनता से तलाशी करने पर पूरे मामले का खुलासा हुआ। कस्टम अधिकारी ने बताया कि यात्री ने एक किलो 399.60 ग्राम सोने को बड़ी चालाकी से मिक्सर ग्राइंडर के अलग.अलग हिस्सों में छिपाकर लाया था। इससे पहले भी बीते सप्ताह वैक्यूम क्लीनर और अगरबत्ती इलेक्ट्रिक बर्नर में 19.90 लाख की कीमत का 407.90 ग्राम सोना पकड़ा था। यात्री ने बताया कि एयरपोर्ट के बाहर इतनी कीमत के सोने के बदले उसे रकम के साथ-साथ अन्य उपहार भी मिलने वाला था।









Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email