Built In-house Captive Oxygen Generation Plant – बनाया इन-हाउस कैप्टिव ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट


होगी ऑक्सीजन की आपूर्ति

जयपुर, 22 जुलाई
मणिपाल यूनिवर्सिटी जयपुर ने कोविड महामारी और अन्य स्थिति में देश के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बिना किसी बाधा के ऑक्सीजन आपूर्ति करने के लिए इन.हाउस कैप्टिव ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट बनाया है। यूनिवर्सिटी के केमिकल इंजीनियरिंग विभाग के प्रो.अभिषेक शर्मा ने मोनाश यूनिवर्सिटी ऑस्ट्रेलिया के प्रो. पॉल वेब्ले और कर्टिन यूनिवर्सिटी, ऑस्ट्रेलिया के प्रो.विष्णु पारीक और डॉ. तेजस भटेलिया के सहयोग से मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन उत्पन्न करने के लिए इस तकनीक को विकसित किया है। यह सामाजिक पहल एमयूजे के प्रेसिडेंट प्रो. जीके प्रभु और प्रो.प्रेसिडेंट,प्रो. एनएन शर्मा के नेतृत्व में की गई है
प्रो. शर्मा ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान इस प्रोजेक्ट को पूरा करना मुश्किल था,ऐसे में उन्होंने और उनकी टीम ने इसे चुनौती की तरह लिया और केवल 6 सप्ताह में इसे पूरा का लिया। प्रो. शर्मा का केमिकल इंजीनियरिंग का बैकग्राउंड इस प्रोसेस प्लांट को समय से पूरा करने में मददगार रहा। इस निर्माण प्रक्रिया की कोर टीम में चार लोग शामिल थे। मणिपाल यूनिवर्सिटी के प्रो. प्रेसिडेंट प्रो. एनएन शर्मा इस प्रोजेक्ट से शुरू से जुड़े रहे और प्रोजेक्ट के विभिन्न चरणों में आवश्यक सहयोग किया। केमिकल इंजीनियरिंग की स्टूडेंट तनिमा शर्मा और मैकेनिकल इंजीनियरिंग के स्टूडेंट नमन शर्मा ने प्रोजेक्ट के शुरुआती चरणों में दूर रह कर योगदान दिया। टीम इस प्रोजेक्ट की सफलता को लेकर अत्यधिक आश्वस्त है। वे आवश्यक स्थानों पर ऐसी यूनिट्स को चालू करने के लिए सरकार और कुछ अस्पतालों के साथ संपर्क में हैं। अब डॉ. शर्मा चाहते हैं कि इन यूनिट्स को देश के ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित किया जाए और कोविड सहित किसी अन्य स्थिति में ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति प्रदान की जाए, जिससे जरूरत पडऩे पर देश के विभिन्न हिस्सों में उच्च शुद्धता वाले ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराने की मांग को पूरा किया जा सके।





Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email