Daughters Marriage In Mahila Sadan – महिला सदन में बेटियों की शादी


बेटियों की विदाई पर नम आंखें

जयपुर, 14 जुलाई
जिन्हें माता पिता ने ठुकरा दिया,उनके लिए सरकार ने परिवार की भूमिका निभाई और राज्य महिला सदन से बुधवार को तीन बेटियां शादी के बाद धूमधाम से अपने ससुराल विदा हुई। इन बेटियों की बारात दौसा, सवाई माधोपुर और जयपुर से आई।
सभी रस्में निभाई
हाथों में साजन के नाम की मेहंदी, मांग में सिंदूर और गले में सुहाग का मंगलसूत्र पहनकर जहां बेटियां बेहद खुश नजर आई वहीं ससुराल के लिए विदाई होने पर उनकी रुलाई फूट पड़ी। उन्हें वैवाहिक जीवन की मंगल कामना व आशीर्वाद देने पहुंचे अधिकारियों और कर्मचारियों की आंखें भी बेटियों की विदाई पर नम हो गई। महिला सदन की सहायक निदेशक अंजना मानव पिछले तीन महीने से शादी की तैयारियों में जुटी हुई थीं बेटियों की विदाई होने पर रो पड़ी। उत्साह और उमंग से सजाया गया शादी का पांडाल और यहां मौजूद लोग इस भावनात्मक रिश्ते के साक्षी बनें।
इससे पूर्व वैवाहिक रस्मों की कड़ी में वर पक्ष के सभी लोग सदन में बारातियों के साथ गाजे बाजे के साथ झूमते नाचते हुए पहुंचे। जैसे ही दूल्हों ने तोरण मारा वधु पक्ष की ओर से पीहर वालों की भूमिका में विभाग के अधिकारी उनका परिवार और सदन की बालिकाओं ने उनका स्वागत फूल और इत्र डालकर किया। इसके बाद सदन के सभी लोग बारातियों की खातिरदारी में लग गए। बेटियों की तरफ से बारात का स्वागत विभागीय अधिकारियों ने किया। धूमधाम के बीच दूल्हा दुल्हन का पाणिग्रहण संस्कार हुआ। उपस्थित सभी लोगों ने नवदम्पत्ती को आशीर्वाद दिया। शादी को लेकर जितनी खुश बेटियां दिखी, उनसे अधिक खुश बाराती नजर आए।
लोगों की सोच बदलने का प्रयास
इस अवसर पर अंजना मानव ने कहा कि भले ही इनकी शादी हो गई हो लेकिन महिला सदन इनकी नियमित रूप से सार संभाल करता रहेगा। उनका कहना था कि इस प्रयास से लोगों की सोच बदलेगी और समाज में बेटियों की लोग इज्जत करेंगे।
बारातियों के स्वागत की विशेष तैयारी
सदन की सहायक निदेशक अंजना मानव ने बताया कि विवाह समारोह पूरे पारंपरिक रीति रिवाजों के साथ संपन्न कराया गया है। इसके लिए सभी जरूरी चीजों का इंतजाम किया गया था। खासतौर पर बारातियों के स्वागत की तैयारियां पूरे उत्साह के साथ की गई इसमें सदन की बालिकाओं की मदद ली गई थी, जिससे बारातियों को किसी असुविधा का सामना नहीं करना पड़े।
बुधवार को सोना गुप्ता की शादी दौसा के अजय, अनीषा का विवाह सवाई माधोपुर के राहुल शर्मा और संजीदा का विवाह जयपुर के जगदीशपुरी गोस्वामी के साथ पूरे विधि विधान के साथ हुआ। 15 जुलाई को बारां के उमेश शर्मा केसाथ सेजल, सवाई माधोपुर के शिव शंकर के साथ सुम्मी और अलवर के विक्रम सिंह के साथ चांदनी का शादी समारोह आयोजित किया जाएगा। इसी प्रकार 16 जुलाई को जसपुर के अंकित अग्रवाल के साथ सुनीति, जयपुर के राकेश कुमार के साथ नीरू और बारां के महेंद्र नागर के साथ प्रियंका का विवाह सम्पन्न होगा। आमतौर पर महिला सदन में एक ही दिन में सभी विवाह किए जाते रहे हैं लेकिन इस बार कोविड को ध्यान में रखते हुए तीन दिन में 9 आवासनियों के विवाह समारोह आयोजित करने का निर्णय लिया गयाए जिससे भीड़ एकत्र ना हो और कोविड गाइडलाइन की पालना की जा सके।
विभाग ने वर वधु को महिला सदन की इन बेटियों को शादी के बाद विदाई के दौरान घर गृहस्थी बसाने के लिए 50 तरह के सामान उपहार में दिए। इनमें टीवी, फ्रिज, पंखा, पंलग, ड्रेसिंग टेबिल, गद्दे, अलमारी, मिक्सी, सीलिंग फेन, सिलाई मशीन, बर्तन, चूल्हा, खाना बनाने के बर्तन आदि शामिल हैं।







Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email