Debris came on National Highway-5 due to rain, traffic on the highway stopped at four in the morning, opened for vehicles after hard work | बारिश के कारण नेशनल हाईवे-5 पर आया मलबा, सुबह 4 बजे दोबारा बंद हुआ यातायात; कड़ी मशक्कत के बाद खोला गया था


  • Hindi News
  • Local
  • Himachal
  • Shimla
  • Debris Came On National Highway 5 Due To Rain, Traffic On The Highway Stopped At Four In The Morning, Opened For Vehicles After Hard Work

शिमला/किन्नौर11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
किन्नौर के टापरी के पास पागल नाला आने से बंद हुआ हाईवे। - Dainik Bhaskar

किन्नौर के टापरी के पास पागल नाला आने से बंद हुआ हाईवे।

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर को जोड़ने वाला नेशनल हाईवे-5 दोबारा से बंद हो गया है। किन्नौर के टापरी स्थित पागल नाले में भारी मलबा आ जाने से हाईवे पर वाहनों के पहिए थम गए। वहीं प्रशासन एक बार फिर से हाईवे को बहाल करने में जुट गया है। पागल नाले से अभी भी मलबे के आने का सिलसिला लगातार जारी है।

किन्नौर जिला में पिछले दो दिनों से लगातार बारिश हो रही है, इसलिए पागल नाला में मलबा आया। फिर शुक्रवार सुबह 4 बजे अचानक ही मलबा आना शुरू हुआ, जो देखते ही देखते पूरी सड़क पर फैल गया। इससे नेशनल हाईवे-5 पूरी तरह से बंद हो गया। वाहनों की आवाजाही बाधित हो गई।

हाईवे पर मलबा आने की खबर मिलते ही प्रशासन अधिकारी मौके पर पहुंचे और मलबे को हटाने का काम शुरू कराया। लेकिन मलबे के लगातार आने के कारण हाईवे को बहाल करना मुश्किल हो रहा है। नेशनल हाईवे-5 अभी पूरी तरह से बंद है। प्रशासन पागल नाले से मलबे के रुकने का इंतजार कर रहा है, ताकि हाईवे को बहाल किया जा सके।

बारिश के पानी के साथ आया मलबा

बारिश के पानी के साथ आया मलबा

ज्यूरी के पास बार-बार बंद हो रहा हाईवे

वहीं दूसरी ओर रामपुर के जीवनी के पास भी लगातार हाईवे के बंद होने का सिलसिला जारी है पहाड़ी से मलबा आ जाने के कारण हाईवे पर वाहन नहीं चल पा रहे है। रात को भी बारिश होने से हाईवे बंद हुआ और सुबह कड़ी मशक्कत के बाद खोला गया। यहां सोमवार को लैंडस्लाइड हुआ था, जिसके बाद मलबा आने का सिलसिला लगातार जारी है।

नेशनल हाईवे-5 पर सफर करना खतरे से खाली नहीं
रामपुर से किन्नौर जाने वाले नेशनल हाईवे पर सफर करना आसान नहीं है। क्योंकि यहां पिछले कुछ दिनों से जगह-जगह लैंडस्लाइड और भूस्खलन हो रहे है। इससे कभी भी वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो सकते हैं। हाल ही में निगुलसेरी के पास भी हादसा हुआ था, जिसमें एक एचआरटीसी की बस समेत चार अन्य छोटे वाहन दब गए थे और 28 लोगों की मौत हो गई। ज्यूरी के पास भी भूस्खलन हुआ।

खबरें और भी हैं…



Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email