‘Education Minister Resign’ In Top 5 Twitter Trends In Rajasthan – राजस्थान में टॉप 5 ट्विटर ट्रेंड में ‘शिक्षामंत्री इस्तीफा दो’


सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहे डोटासरा

जयपुर, 22 जुलाई
राजस्थान प्रशासनिक सेवा परीक्षा-2018 के इंटरव्यू (Rajasthan Administrative Service Exam-2018 Interview) में अपने दो रिश्तेदारों को मिले समान नंबरों को लेकर शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा (Education Minister Govind Singh Dotasara) भले ही अपनी सफाई दे चुके हो लेकिन यह मामला अभी थमने का नाम नहीं ले रहा। प्रदेश के युवाओं ने उन्हें सोशल मीडिया पर घेर लिया है और हैशटैग शिक्षामंत्री इस्तीफा दो से उनके खिलाफ मुहिम छेड़ते हुए उन्हें ट्रोल किया जा रहा है। सोशल मीडिया में छाए इस मुद्दे में यूजर्स उन्हें नाथी का बाड़ा जैसे पुराने बयानों को लेकर भी उनको लपेट रहे हैं। वहीं आरएएस शब्द की अलग-अलग व्याख्या की जा रही है। इतना ही नहीं इस मामले को लेकर यूजर्स गहलोत सरकार भी जमकर निशाना साधा जा रहा है। आरएएस इंटरव्यू विवाद के साथ ही स्कूल व्याख्याता 2018 में 14 फीसदी पद कटौती, शिक्षक तबादले विवाद, कम्प्यूटर शिक्षक स्थाई भर्ती विवाद, बीएसटीसी लेवल वन और टू,वरिष्ठ नाथी का बाड़ा विवाद आदि मुद्दों को लेकर भी उन्हें ट्रोल किया जा रहा है। ट्विटर पर राजस्थान में यह मामला टॉप 5 में पहुंच गया है।
ऐसे कमेंट्स कर रहे हैं यूजर्स
सोशल मीडिया पर एक्टिव एक यूजर पूजा कुमारी ने लिखा कि हमें एक ईमानदार लीडर चाहिए, डोटासरा जैसे नहीं जो आरएएस अभ्यार्थियों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। उन्हें इस्तीफा देना चाहिए। वहीं संजय हिंदुस्तानी लिखते हैं कि शिक्षामंत्री डोटासरा लाखों विद्यार्थियों की भावनाओं से खेलना बंद करें साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मांग की है कि वह इस मामले की जांच करवाएं। एक यूजर अविनाश गहलोत ने अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखा कि नाथी का बाड़ा है तो मुमकिन है!! वहीं एक अन्य यूजर्स लक्ष्मीकांत भारद्वाज ने लिखा कि राजस्थान कांग्रेस का नया मॉडल। इतना ही नहीं इसे लेकर मीम्स भी शेयर किए जा रहे हैं।
डोटासरा के रिश्तेदारों को मिले हैं 80-80 अंक
गौरतलबहै कि हाल ही में राजस्थान लोकसेवा आयोग ने आरएएस परीक्षा-2018 का परिणाम जारी किया था। इसमें शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के दो रिश्तेदारों के समान अंक आने के कारण मामला चर्चा में गया। डोटासरा की पुत्रवधू प्रतिभा के वर्ष 2016 की भर्ती के परिणाम में इंटरव्यू में 80 अंक आए थे वहीं अब आरएएस भर्ती परीक्षा 2018 के परिणाम में उनकी पुत्रवधू के भाई गौरव और बहन प्रभा को भी इंटरव्यू में 80-80 अंक मिले हैं।
डोटासरा को देना पड़ा स्पष्टीकरण
इस मामले के सामने आने के बाद शिक्षामंत्री ने सफाई दी और कहा कि दोनों रिश्तेदार गौरव और प्रभा प्रतिभाशाली हैं। चयन योग्यता के आधार पर हुआ है। यह मामला इसलिए भी ज्यादा तूल पकड़ रहा है क्योंकि भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने परीक्षा परिणाम घोषित होने से पहले परीक्षा में इंटरव्यू में अच्छे अंक दिलाने के नाम पर 23 लाख की घूस के मामले का भंडाफोड़ भी किया था।





Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email