Gehlot Minister Sukhram Vishnoi Son Charged Over Kidnap Extortion Case – राजस्थान : गहलोत सरकार के मंत्री पुत्र पर किडनेप-फिरौती के संगीन आरोप, अब आई ये Latest Update


– जालोर: व्यापारी के अपहरण और फिरौती का मामला – अपहृत व्यापारी ने छूटने के बाद लगाए वन मंत्री पुत्र पर आरोप – वन मंत्री सुखराम विश्नोई के पुत्र डॉ भूपेंद्र विश्नोई पर आरोप – डॉ विश्नोई ने आरोपों को किया खारिज, छवि खराब करने का बताया प्रयास – डॉ भूपेंद्र ने सोशल मीडिया पर डाली भावुक पोस्ट – शुभचिंतकों से कहा, ‘मुझपर भरोसा रखो, मेरी मदद करो’ – ‘कितनी ही बड़ी जांच के लिए तैयार हूँ, सरकार-मीडिया भी करे निष्पक्ष जांच’

By: nakul

Published: 21 Jul 2021, 01:15 PM IST

जयपुर।

गहलोत सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्नोई के पुत्र डॉ भूपेंद्र विश्नोई की मुश्किलें बढ़ी हुई हैं। दरअसल, उनपर एक व्यापारी के अपहरण और फिरौती वसूलने के षड़यंत्र में शामिल होने के संगीन आरोप लग रहे हैं। हालांकि मंत्री विश्नोई और उनके पुत्र डॉ भूपेंद्र विश्नोई ने सभी आरोपों को निराधार बताते हुए इसे छवि धूमिल करने की सोची-समझी साजिश का हिस्सा बताया है। इसी तरह से पुलिस ने भी इस मामले पर अपनी प्रारम्भिक पड़ताल में मंत्री पुत्र की संलिप्तता से इंकार किया है।

डॉ भूपेंद्र ने डाली भावुक पोस्ट
व्यापारी का अपहरण करने और उसे छोड़ने की एवज में फिरौती वसूलने के संगीन आरोपों को डॉ भूपेंद्र विश्नोई ने खारिज किया है। उन्होंने सोशल मीडिया के ज़रिये भी अपना पक्ष रखते हुए खुद को बेगुनाह बताते हुए साजिश के तहत फंसाये जाने की बात कही है।

ये लिखा भावुक पोस्ट में..
मंत्री पुत्र डॉ भूपेंद्र विश्नोई ने सोशल मीडिया पोस्ट के भावुक संदेश में लिखा, ‘ ‘मेरा बेटा सो रहा है मेरी धर्मपत्नी सो गई, माँ भी शायद सो रही होगी लेकिन मेरा मन बहुत उदास है, क्योंकि मेरी बिटिया अभी तक सोई नहीं.. बोली पापा नींद नहीं आ रही मेरे से बातें करें.. मजबूत बहुत हूँ किसी से टकराने को तैयार हूँ.. लेकिन मेरे आँसू कह रहे हैं मेरे पिताजी जो अभी जयपुर में है सो नहीं पा रहे होंगे… उनके मन में एक ही ख़्याल आ रहा होगा कि, मेरा संस्कार ऐसा नहीं हो सकता ??”

उन्होंने आगे लिखा, ”साथियों मुझे आज आपसे न्याय चाहिए… अगर किसी भी तरीके से मैं दोषी हूं तो मुझे सजा दिलवाओ, नहीं तो किस के कहने से मुझे और मेरे परिवार को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है!! दोस्तों अपने भूपेंद्र पर भरोसा है तो मेरी मदद करो और कितनी भी बड़े लेवल की जांच करानी पड़े आप सभी सोशल मीडिया पर अपनी अपनी पोस्ट बनाकर सरकार और मीडिया को कहें की दूध का दूध और पानी का पानी हो!! अगर आपका स्नेह मेरे लिए है तो आओ सब मिल कर लड़ाई लड़े, अगर मैं गलत हूँ तो सजा दिलाओ नहीं तो सच उजागर कराओ।”

ये है मामला
एक व्यापारी ने किडनैपर्स के चंगुल से छूटकर गहलोत सरकार में वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्नोई के पुत्र पर कई संगीन आरोप लगा डाले। मंत्री पुत्र पर किडनेप करने और रिहाई के बदले 50 लाख की फिरौती मांगने के आरोप लगा दिए। व्यापारी ने पुलिस के पास पहुंचकर बताया कि उसने अपहरणकर्ताओं के चंगुल से भागकर जैसे-तैसे अपनी जान बचाई है। व्यापारी ने पुलिस पर भी राजनीतिक दबाब के चलते आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करने की बात कही।

ऐसे चली टाइमलाइन-
– व्यापारी प्रकाश विश्नोई का 17 जुलाई को जालोर के हड़ेचा से अपहरण हुआ
– पीड़ित के अनुसार अपहरणकर्ता उसे हरियाणा के भिलाई ले गए- उसे करीब तीन दिन तक बंधक बनाये रखा गया, उसके साथ मारपीट हुई
– आरोप है कि अपहरणकर्ताओं ने उनकी बात मंत्री पुत्र से करवाई
– आरोप है कि मंत्री पुत्र ने ही रिहाई के बदले 50 लाख की फिरौती मांगी थी















Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email