Indo-Pak: Sweets Distributed On The Border After Two Years – Indo-Pak: दो साल बाद बॉर्डर पर बंटी मिठाई


– ईद के मौके पर बीएसएफ ने जम्मू से राजस्थान तक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाक रेंजर्स को दी मिठाई
– अगस्त 2019 में कश्मीर में धारा-370 हटाने के बाद पाक ने बंद कर दी थी परंपरा

जोधपुर. आखिर दो साल बाद भारत और पाकिस्तान के बीच अंतरराष्ट्रीय सीमा पर मिठाई बंटी। बकरा ईद के मौके पर बुधवार को सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने जम्मू कश्मीर, पंजाब और राजस्थान बॉर्डर पर पाक रेंजर्स को मिठाई के पैकेट दिए। भारत ने बांग्लादेश बॉर्डर पर वहां के सुरक्षाकर्मियों को भी ईद पर मिठाई भेजी।

राजस्थान में बाड़मेर के मुनाबाव और बीकानेर-श्रीगंगानगर से लगती सीमा पर पाकिस्तानी सुरक्षाकर्मियों का मुंह मीठा करवाया गया। पांच अगस्त 2019 को केंद्र सरकार की ओर से कश्मीर में धारा-370 हटाने के बाद पाकिस्तान ने यह परंपरा तोड़ दी थी और भारत की ओर से भेजे जाने वाली मिठाई को ठुकराना शुरू कर दिया। इसके बाद भारत ने भी पिछले साल से मिठाई भेजना बंद कर रखा था। अंतिम बार 5 अगस्त 2019 को बकरा ईद पर ही दोनों देशों के मध्य मिठाई का आदान-प्रदान हुआ था।

होली, दीपावली, ईद, गणतंत्र दिवस व स्वतंत्रता दिवस जैसे पर्व पर भारत की ओर से सीमा पार ड्यूटी दे रहे पाकिस्तानी सैनिकों को मिठाई दी जाती है। बीएसएफ के जवान जम्मू-कश्मीर, पंजाब, राजस्थान व गुजरात सीमा पर पाकिस्तानी रेंजर्स का मुंह मीठा करवाते हैं। पाकिस्तान भी अपने स्वतंत्रता दिवस और ईद पर भारतीय जवानों को मिठाई खिलाता है। भारत-पाक के मध्य 2290 किमी अंतरराष्ट्रीय सीमा है। वर्ष 2020 से सीमा पर छिटपुट घटना को छोडकऱ फायरिंग बंद है। साथ ही बॉर्डर पर दोनों के किसान आसानी से खेती भी कर रहे हैं। दोनों देशों के मध्य रिश्ते कुछ ठीक होने से इस बाद मिठाई वितरण की परंपरा फिर से शुरू की गई।













Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email