Kataria Will Write A Letter To The Center For Gargi Award – गार्गी पुरस्कार के लिए कटारिया लिखेंगे केंद्र को पत्र


बच्चों से किया वादा
डिजिटल बाल मेले में बच्चों से रूबरु हुए नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया
राजस्थान के हालातों पर बोले
गहलोत-पायलट ना लड़े तो आराम से करेंगे राज

जयपुर, 20 जुलाई
सीबीएसई की छात्राओं को गार्गी पुरस्कार (Gargi Award) दिलाने की मांग पर सहमति जताते हुए नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया (Leader of Opposition Gulab Chand Kataria) ने बच्चों से वादा किया कि वो इस संबंध में देश के शिक्षामंत्री को पत्र लिखेंगे। इस पत्र में बच्चों की इस मांग पर विचार करने का अनुरोध किया जाएगा। दरअसल, राज्य बोर्ड में 10वीं और 12वीं में 75 फीसदी या अधिक अंक लाने वाली छात्राओं को गार्गी पुरस्कार दिया जाता है, जबकि सीबीएसई में यह प्रावधान नहीं है। उन्होंने फ्यूचर सोसायटी, एलआईसी और आईडीबीआई बैंक की ओर से आयोजित किए जा रहे डिजिटल बाल मेले (Digital Baal mela) के सीजन 2 के दौरान कही। संवाद में कुशलगढ़ की माही गादिया ने सवाल किया कि सीबीएसई की छात्राओं को भी गार्गी पुरस्कार दिया जाना चाहिए। इस सवाल के जवाब में कटारिया ने बच्चों से यह वादा किया।
संवाद के दौरान बच्चों ने कई अहम राजनीतिक सवाल भी नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया से किए। संवाद के दौरान कटारिया से सवाल किया कि आज सरकारों को अस्थिर करने का काम किया जा रहा है। क्या इसके पीछे नेताओं का हाथ है? इस सवाल का जवाब देते हुए नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने मध्यप्रदेश की बात करते हुए कहा कि वहां वोट प्रतिशत भाजपा का ज्यादा था। लेकिन चुनाव में पांच सीट कांग्रेस के पास अधिक थी। ऐसे में एक धड़ा ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ कांग्रेस से निकल गया और जिसके कारण उनकी सरकार गिर गई। कटारिया ने कहा कि कांग्रेस खुद ही अपने आंतरिक कारणों से सरकार नहीं बचा पाई। सरकार गिराने में खुद कांग्रेस के नेताओं का ही हाथ है। वहीं, राजस्थान को लेकर कहा कि यहां भाजपा और कांग्रेस में 34 सीट का अंतर है। ऐसे में इसे भाजपा पूरा नहीं कर सकती है। गहलोत और पायलट में पदों की लड़ाई है। यदि यह लड़ाई नहीं हो तो वे आराम से राजस्थान में राज कर सकते हैं।

संवाद के दौरान बाल मेले में एक बच्चे ने कटारिया से सवाल पूछा कि क्या विपक्षी पार्टी के विधायकों के क्षेत्र में विकास कार्य पूरी तरह से हो रहे हैं? इस सवाल का जवाब देते हुए कटारिया में कांग्रेस सरकार पर हमला बोला।नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया का कहना है कि विपक्ष में बैठे विधायकों के क्षेत्रों में विकास कार्य नहीं हो रहे हैं। हमारे देश में लोकतांत्रिक व्यवस्था है और ऐसे में इस तरह से दुर्भावना रखते हुए कार्य नहीं किया जाना चाहिए। लेकिन यह दुर्भाग्य है कि राजस्थान में कांग्रेस सरकार इस तरह से ही काम कर रही है। बाल मेला में बच्चों संग संवाद में बुधवार को राजसमंद विधायक दीप्ति माहेश्वरी जुड़ेगी। वो बच्चों से विरासत की राजनीति कितनी दमदार विषय पर संवाद करेंगी।





Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email