Party Will Take Strict Action Against Indiscipline Says Dotasara – बयानवीरों को डोटासरा की दो टूक, ‘अनुशासनहीनता की तो परिणाम भुगतने को तैयार तैयार रहें’


-डोटासरा ने कहा कि सीमा से बढ़कर कोई अनुशासनहीनता करेगा तो पार्टी पर उस पर कार्रवाई करेगी, पीसीसी चीफ ने कहा, कांग्रेस में सिर्फ सोनिया गांधी का खेमा, कांग्रेस का झंडा और हाथ के निशान की तमाम नेताओं को कद्र करनी पड़ेगी, फिर भी कोई नहीं समझे तो उसे कार्रवाई के लिए तैयार रहना चाहिए, मेरे अध्यक्ष बनने के बाद प्रदेश कांग्रेस में कोई गुटबाजी नहीं रही है, सब मिलकर काम कर रहे हैं, पीसीसी मुख्यालय में 1 वर्ष के कार्यकाल के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया डोटासरा का स्वागत

फिरोज सैफी/जयपुर।

पार्टी में विधायकों और नेताओं के बीच चल रही बयानबाजी के बीच प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा का बड़ा बयान सामने आया है। गोविंद सिंह डोटासरा ने पार्टी के बयानवीरों को दो टूक चेतावनी देते हुए कहा कि पार्टी में अगर कोई भी अनुशासनहीनता करेगा तो उसे उसका परिणाम भुगतना पड़ेगा।

कांग्रेस का झंडा और हाथ के निशान की कद्र पार्टी के तमाम कार्यकर्ताओं नेताओं को करनी पड़ेगी और फिर भी अगर कोई नहीं समझे तो उसे कार्रवाई के लिए तैयार रहना चाहिए। डोटासरा ने बुधवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में अपने कार्यकाल का 1 वर्ष पूरा होने पर मीडिया से बातचीत में कहा कि अगर कोई भी कोई भी व्यक्ति सीमा से बढ़कर अनुशासनहीनता करेगा तो पार्टी उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी।

कांग्रेस में कोई खेमेबाजी नहीं
पीसीसी चीफ ने कहा कि राजस्थान कांग्रेस में कोई खेमे बाजी नहीं है, यहां सिर्फ केवल एक ही खेमा है और वह है सोनिया गांधी और राहुल गांधी का खेमा। कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ता और नेता सोनिया गांधी की नेतृत्व में एकजुट हैं और प्रदेश की जनता के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरे अध्यक्ष बनने के बाद से पार्टी में किसी प्रकार की कोई खेमेबाजी नहीं है, सब लोग मिलकर काम कर रहे हैं और प्रदेश के तमाम बड़े नेताओं का सहयोग मुझे मिल रहा है।

राजस्थान में जनसंख्या नियंत्रण के नियम पहले से लागू
पीसीसी चीफ डोटासरा ने उत्तर प्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने के सवाल पर कहा कि राजस्थान में पहले से ही जनसंख्या नियंत्रण कानून के नियम बने हुए हैं। पंचायती राज में चुनाव लड़ने का मामला हो, नगर निकायों में चुनाव लड़ने का मामला हो या फिर सरकारी नौकरियों भर्ती और पदोन्नति का मामला हो, तमाम जगह दो बच्चों का नियम लागू हैं। उन्होंने कहा कि यूपी की योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है तो जनता का ध्यान भटकाने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यूपी की योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार को लोगों का ध्यान भटकाने की बजाए असल मुद्दों पर बात करनी चाहिएय़ आज किसान सड़कों पर बैठा हुआ है लेकिन उन से वार्ता करने के लिए कोई तैयार नहीं है, किसानों पर जबरन काले कानून थोपे गए हैं, महंगाई आसमान छू रही है, उन्होंने कहा कि ढाई साल के बाद मोदी सरकार के बड़े स्तर पर हुए मंत्रिमंडल साबित हो गया कि मोदी सरकार ने ढाई साल में कोई काम नहीं किया और अपनी विफलता का ठीकरा कई मंत्रियों को हटाकर उनके सिर फोड़ दिया है। ऐसा पहली बार हुआ जब इतने बड़े स्तर पर मंत्रिमंडल में फेरबदल हुआ है।

पर्दे के पीछे राजनीति करती है मोदी
प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष ने आरएसएस पर भी हमला बोलते हुए कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर्दे के पीछे रहकर राजनीति करती है, जहां-जहां भी भाजपा की सरकारें हैं वहां पर सत्ता की बागडोर पर्दे के पीछे आरएसएस के हाथों में होती है उनकी मर्जी के बिना एक फाइल भी आगे नहीं बढ़ पाती है।

डोटासरा ने कहा कि आरएसएस के लोग भ्रष्टाचार में लिप्त होते हैं, राजस्थान में इसका उदाहरण देखने को मिला है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि भ्रष्टाचार के आरोपी संघ प्रचारक को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए।

जनता के सामने रखा जन घोषणापत्र का रिपोर्ट कार्ड
पीसीसी चीफ ने कहा कि कांग्रेस पार्टी काम करने में विश्वास करती है, इसीलिए ही सत्ता में आते ही पार्टी ने घोषणापत्र को सरकारी दस्तावेज बनाया और उस पर काम किया। 2 साल के बाद हमने जन घोषणा पत्र में किए गए आधे से ज्यादा वादों को पूरा किया है।

एक साल का कार्यकाल पूरा होने पर डोटासरा का स्वागत
पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा के कार्यकाल का 1 वर्ष पूरा होने के मौके पर कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने डोटासरा का कांग्रेस मुख्यालय में जमकर स्वागत किया। बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता नेता पीसीसी पहुंचे थे और माला और साफा पहनाकर उनका स्वागत किया। कांग्रेस विधायक रफीक खान अमीन कागज़ी पूर्व मंत्री नसीम अख्तर इंसाफ, विधायक हाकम अली खान, प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष मुमताज मसीह, पूर्व सांसद अश्क अली टांक, सतेंद्र भारद्वाज, पूर्व विधायक जाकिर गैसावत, प्रदेश कांग्रेस के मुख्यालय प्रभारी ललित तूनवाल, जसवंत गुर्जर, रामसिंह कस्वा, पूर्व महापौर ज्योति खंडेलवाल, जयपुर हेरिटेज की महापौर मुनेश गुर्जर, कांग्रेस नेता प्रताप पूनिया, विधायक और प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष गणेश घोघरा सहित कई नेता और कार्यकर्ता पीसीसी पहुंचे और स्वागत किया।

गौरतलब है कि बीते साल सियासी संकट के दौरान कांग्रेस आलाकमान ने 14 जुलाई 2020 को सचिन पायलट को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से बर्खास्त करके गहलोत सरकार में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा को पीसीसी चीफ की कमान सौंपी थी।





Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email