Rajasthan Assembly Session Brij Chorasi Parikrama Mini Pakistan Jaipur – मिनी पाकिस्तान बन रहा है बृज चौरासी क्षेत्र-दिलावर, ढाई साल में हिन्दू-मुसलमान के अलावा कोई मुद्दा नहीं आपके पास-डोटासरा


शून्यकाल में विधायक मदन दिलावर ने बृज चौरासी क्षेत्र का मामला उठाते हुए इस क्षेत्र को मिनी पाकिस्तान की संज्ञा दे दी। इस पर शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने नाराजगी जताई और कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है।

जयपुर।

शून्यकाल में विधायक मदन दिलावर ने बृज चौरासी क्षेत्र का मामला उठाते हुए इस क्षेत्र को मिनी पाकिस्तान की संज्ञा दे दी। इस पर शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने नाराजगी जताई और कहा कि विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है। पिछले ढाई साल के केवल हिन्दू-मुस्लिम कर रहे हैं। इसे लेकर सत्तापक्ष और विपक्ष के विधायकों के बीच जमकर तू तू मैं मैं हुई। यही नहीं भाजपा विधायक वेल में आकर हंगामा करने लगे। इस पर सभापति राजेंद्र पारीक ने उन्हें अपनी सीट पर जाने के निर्देश देकर मामला शांत कराया।

दिलावर ने कहा कि बृज चौरासी क्षेत्र का कुछ हिस्सा राजस्थान से लग रहा है। भरतपुर में यह हिस्सा आता है, जहां कई दर्शनीय स्थल हैं। लेकिन यह क्षेत्र नरक क्षेत्र बन चुका है। वहां लगातार माता—बहनों के साथ दुष्कर्म हो रहे हैं, दलितों की जमीनों पर कब्जा हो रहा है। यह क्षेत्र आतंकवादी और गुंडों का अड्डा बन चुका है। आमजन की यहां कोई सुनवाई नहीं हो रही है और दोषियों को स्थानीय जनप्रतिनिधियों का समर्थन प्राप्त है। दिलावर ने कहा कि मेवात क्षेत्र मिनी पाकिस्तान बनता जा रहा है। उन्होंने कहा कि यहां लव जिहाद के मामले बढ़ते जा रहे हैं। गोमाता को काटा जाता है। इस क्षेत्र में 109 गांव हिन्दूविहीन हो गए हैं और क्षेत्र को हिन्दूविहीन बनाने का जो षड्यंत्र बनाया जा रहा है।

सत्तापक्ष ने शुरू कर दिया हंगामा

दिलावर के आरोपों पर सत्तापक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया। शिक्षामंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि ढाई साल से विपक्ष के पास एक मुद्दा नहीं है। ये केवल हिन्दू-मुस्लिम करते रहते है। मोदी सरकार ने दो साल में हिन्दू—मुस्लिम ही किया है। क्या आरएसएस की पाठशाला में केवल हिन्दू-मुस्लिम ही सिखाया जाता है। इस पर विपक्ष के विधायक एकजुट होकर हंगामा करते हुए वेल में आ गए। इसके बाद सभापति के कहने पर विपक्ष के विधायक अपनी सीटों पर पहुंचे।

क्या हम जनता को एकजुटता का संदेश नहीं दे सकते

सत्तापक्ष और विपक्ष के इस व्यवहार पर सभापति राजेंद्र पारीक ने नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि इस प्रदेश की सात करोड़ जनता ने हम 200 लोगों को यहां उनकी बात रखने के लिए भेजा है। जनता हमसे अपेक्षा रखती है कि हम उनकी बात को रखें। हरिदेव जोशी और भैरोसिंह शेखावत में कभी कटूता नहीं रही। मगर क्या हम कद के इतने छोटे हो गए है जो पूर्वजों की दी गई वसीयत के अनुसार उनकी तरह नहीं जी सकते। उन्होंने कहा कि केवल सनसनी पैदा करने के लिए नहीं बोले, बल्कि ये संदेश दे कि हम 200 लोग मिलकर पुलिस थानों को सुधारना चाहते हैं।







Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email