Samyukt Kisan Morcha’s reply to BJP leader Kahlon, Rajewal said – If such nonsense, then such a lesson will be taught that Nani will be remembered; The statement was given to put the farmers in jail with sticks | बलबीर राजेवाल बोले – ऐसी बकवास की तो ऐसा सबक सिखाएंगे कि नानी याद आ जाएगी; किसानों को डंडे मार जेल में डालने का दिया था बयान


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Samyukt Kisan Morcha’s Reply To BJP Leader Kahlon, Rajewal Said If Such Nonsense, Then Such A Lesson Will Be Taught That Nani Will Be Remembered; The Statement Was Given To Put The Farmers In Jail With Sticks

जालंधर4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पंजाब भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश प्रवक्ता एडवोकेट हरिंदर सिंह काहलों की आंदोलनकारी किसानों पर टिप्पणी का मामला गर्मा गया है। संयुक्त किसान मोर्चे ने काहलों को करारा जवाब दिया है। मोर्चे की स्टेज से बलबीर सिंह राजेवाल ने कहा कि काहलों ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जगह होता तो इनकी हड्‌डियां तोड़कर भगा देता। मैं कहना चाहता हूं कि ऐसे कई भौंकने वाले लोग आ चुके लेकिन उन्होंने आंदोलन को ठंडा नहीं पड़ने दिया।

राजेवाल ने कहा कि किसानों के प्रति अपशब्द कहने वाला कोई नेता बख्शा नहीं जाएगा। इस आंदोलन से हमारी रोजी-रोटी व भविष्य जुड़ा हुआ है। आजादी के 74 साल बाद भी देश से बेरोजगारी व गरीबी खत्म नहीं कर सके, भ्रष्टाचार बंद नहीं कर पाए और अगर अब लोग सवाल करते हैं तो नेताओं को तकलीफ हो रही है। देश के लागू को लूटा गया है लेकिन अब यह ड्रामा नहीं चलेगा। आंदोलन जीत भी गए तो जागरुक लोगों को अब उनके सवालों का जवाब देना पड़ेगा। राजेवाल ने कहा कि सरकार को सब कुछ बता चुके, अब वो इज्जत बचाने की वजह से कानून वापस लेने कतरा रहे हैं।

जालंधर में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता एचएस काहलों।

जालंधर में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता एचएस काहलों।

काहलों का नया वीडियो : लाल झंडे वाले जिस घर में घुस जाएं, वो उजड़ जाता है

भाजपा नेता एचएस काहलों के अब और वीडियो सामने आ रहे हैं। काहलों ने पहले कहा था कि ये तो मोदी साहब हैं तो किसानों को प्यार करते हैं। बदकिस्मतनी से मेरे जैसा आदमी होता तो डंडे मार-मार कर किसानों को जेल में डाल देता। काहलों का एक और बयान सामने आया है कि संयुक्त किसान मोर्चे पर लाल झंडे वाले (वामपंथी) हावी हो चुके हैं। मेरा उनके साथ बहुत टकराव रहा है। ये लाल झंडे वाले जिसके घर में घुस जाएं, उसका घर उजड़ जाता है। काहलों ने कहा कि मुझे एक पुराना कामरेड साथी मिला, मैंने उनसे पूछा तो वो बोले कि भूख से टक्कर मारते थे, बड़ी मुश्किल से दुकानदारी शुरु हुई है। पैसे बनने लगे हैं। हमें तो रोटी खाने दो।

खबरें और भी हैं…



Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email