Schools Can Be Unlocked In The State – प्रदेश में अनलॉक हो सकते हैं स्कूल, शिक्षा विभाग ने तैयार किया प्रस्ताव


कोरोना की दूसरी लहर के बाद लॉकडाउन स्कूलों अब फिर से जल्द अनलॉक होंगे। गुरुवार को होने वाली मंत्रिमण्डल की बैठक में शिक्षा विभाग की ओर से इस प्रस्ताव को रखा जाएगा।

सीकर. कोरोना की दूसरी लहर के बाद लॉकडाउन स्कूलों अब फिर से जल्द अनलॉक होंगे। आज होने वाली मंत्रिमण्डल की बैठक में शिक्षा विभाग की ओर से इस प्रस्ताव को रखा जाएगा। इस बार मुख्यमंत्री की ओर से इस प्रस्ताव को हरी झंडी दिए जाने की पूरी संभावना है। क्योंकि कई राज्यों में स्कूल खोलने का निर्णय हो चुका है। इसके अलावा कोरोना के मरीजों की संख्या में भी लगातार कमी आ रही है। वहीं कई विधायकों के साथ स्कूल संचालकों की ओर से भी लगातार स्कूलों को खोलने की मांग की जा रही है। कई महीनों से स्कूल बंद होने से शिक्षानगरी कोटा व सीकर सहित अन्य शहरों की अर्थव्यवस्था भी काफी प्रभावित हुई है। पहले चरण में कक्षा नवीं से बारहवीं तक स्कूल खोले जाने की तैयारी है। इसके बाद स्थिति सामान्य होने पर छोटी कक्षाओं के विद्यार्थियों को बुलाया जा सकता है।

प्रार्थना सभा पर रहेगी रोक
कोरोना की पहली लहर समाप्त होने के बाद शिक्षा विभाग की ओर से स्कूलों को खोला गया था। इस दौरान भी प्रार्थना सभा पर रोक रही थी। ऐसे मे दूसरी लहर के बाद भी प्रार्थना सभा पर रोक लगाने का निर्णय लिया जा सकता है। इसके अलावा सभी विद्यार्थियों को पानी की बोतल साथ लेकर आनी होगी। कॉपी, पैसिंल व किताब शेयर करने पर भी रोक रहेगी।

मुहर लगते ही होगी तिथि की घोषणा

मुख्यमंत्री की बैठक में स्कूलों के अनलॉक होने का निर्णय होने के बाद तिथि की भी घोषणा होगी। विभाग की ओर से दो तिथियों का प्रस्ताव दिया जाएगा। इसमें एक तिथि जुलाई महीने की तो दूसरी तिथि अगस्त महीने की है।

स्थिति ठीक रही तो अगले चरण में आठवीं क्लास
यदि कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार कमी आती है तो अगले चरण में आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों को बुलाया का सकेगा। इससे छोटी कक्षाओं के विद्यार्थियों को बुलाए जाने को लेकर फिलहाल कोई रणनीति नहीं है।

कोचिंग व कॉलेज विद्यार्थियों को भी राहत की आस

नई गाइडलाइन में स्कूल विद्यार्थियों के साथ कोचिंग व कॉलेज विद्यार्थियों को भी राहत मिल सकती है। मुख्यमंत्री इस संबंध में उच्च शिक्षा विभाग की तैयारियों की भी समीक्षा करेंगे।

इनका कहना है
कक्षा नवीं से बारहवीं तक के स्कूलों को खोलने को लेकर गाइडलाइन तैयार कर ली है। गुरुवार को होने वाली मंत्रिमण्डल की बैठक में यह प्रस्ताव रखा जाएगा।

गोविन्द सिंह डोटासरा, शिक्षा मंत्री





Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email