Unemployed candidates performed; Counseling has passed three months, now release the result | बेरोजगार अभ्यर्थियों ने किया प्रदर्शन; काउंसलिंग को बीत गए तीन महीने, अब तो जारी करें परिणाम


अजमेर19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
प्रदर्शन करते अभ्यर्थी - Dainik Bhaskar

प्रदर्शन करते अभ्यर्थी

  • 370 पदों का अटका हुआ है परिणाम, अभ्यर्थियों ने आयोग में सौंपा ज्ञापन

राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा प्राध्यापक कृषि के 370 पदों के लिए काउंसलिंग आयोजित कराए हुए तीन महीने हो गए हैं, लेकिन इस भर्ती का अंतिम परिणाम अब तक जारी नहीं किया है। इस भर्ती के अभ्यर्थियों ने सोमवार को आयोग के सामने प्रदर्शन किया। आयोग को ज्ञापन देकर परिणाम जल्द जारी करने की मांग की।अजमेर सहित प्रदेश के विभिन्न जिलों से अभ्यर्थी आयोग पहुंचे।

अभ्यर्थियों का कहना है कि राजस्थान सरकार द्वारा 2018 में कृषि प्राध्यापक पद के लिये 370 पदों पर भर्ती निकाली थी। जिसमें योग्यता एमएससी व बीएड थी जिसका परिणाम 28 जुलाई 2020 को निकाल प्रथम दस्तावेज जांच 8 व 9 सितम्बर 2020 व अन्तिम दस्तावेज जांच 22 मार्च 2021 को कर दिया था। इसके बावजूद आज तक आयोग के द्वारा अंतिम परिणाम घोषित नहीं किया गया है। जिसकी वजह से अभ्यर्थियों को नियुक्ति नहीं मिल पा रही है।

पढ़ाई बाधित अभ्यर्थियो का कहना है कि मार्च से अब तक कई बार कृषि व्याख्याता भर्ती का प्रतिनिधि मंडल आयोग सचिव शुभम चौधरी, संयुक्त सचिव नीतू यादव आदि सभी अधिकारियों से मिल चुके हैं। हर बार अगले सप्ताह रिजल्ट निकालने का आश्वासन देकर अभ्यर्थियों को परेशान किया जा रहा है। लगभग चार महीने से यही खेल जारी है लेकिन अभ्यर्थियों के हाथों सिर्फ निराशा ही लगी है।

25 साल में कोई भर्ती नहीं
अभ्यर्थियो का कहना है कि राजस्थान में विगत 25 सालों से कृषि व्याख्याताओं की न तो भर्ती हुई है और न ही डीपीसी हुई है। इस कारण विगत तीन सालों में कृषि विषय में 51% नामांकन घटा है। 2017-2018 में शिक्षा विभाग ने 184 स्कूलों में साइंस फैकल्टी में कृषि को पांचवें सब्जेक्ट में शामिल किया है। उसके बावजूद राजस्थान में 420 स्वीकृत पदों में 391 पद यानि 93% पद रिक्त हैं। राज्य में कृषि विज्ञान के 410 विद्यालय हैं जिनमें 29 स्कूलों में ही प्राध्यापक कार्यरत हैं जबकि इन विद्यालयों में 10597 छात्र नामांकित हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email