What Used To Do In ATM That Even After Withdrawing Money, He Used To T – एटीएम में ऐसा क्या कर देते थे कि पैसे निकालने के बाद भी बताता था जमा


एटीएम हैक कर 100 से अधिक वारदात करने वाला सरगना गिरफ्तार

राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और मध्यप्रदेश में एटीएम मशीनों से रुपए निकालने की 100 से अधिक वारदात करने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर पुलिस कमिश्नरेट की सीएसटी टीम ने सरगना को हरियाणा से गिरफ्तार किया है। आरोपी सीडीएम मशीन को हैक कर रुपए वारदात करने में माहिर हैं।
पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि हरियाणा के नूहं स्थित चंदेनी निवासी सरगना तारीफ हुसैन को गिरफ्तार किया हैं। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि सरकारी बैंक के एटीएम में कैश अधिक होता है। इसलिए एसबीआइ के एटीएम को टारगेट करते थे। गैंग के चार सदस्य लग्जरी कार से एटीएम बूथ पर पहुंच जाते। इनमें दो बाहर गार्ड बनकर निगरानी रखते और एटीएम बूथ पर अंदर जाने वाले सीसीटीवी कैमरे से चेहरा बचाते हुए मशीन को हैक कर रुपए निकाल लेते। किसी एटीएम बूथ पर सिक्योरिटी गार्ड मिलता तो दो साथी उसे बातों में उलझा लेते थे। आरोपी लग्जरी गाड़ी को अपने पास रखते थे, जिससे किसी को शक नही होता था। वारदात के समय गाड़ी को घटनास्थल से दूर खड़ी रखकर तीन चार व्यक्ति समूह में एटीएम सीडीएम मशीन के पास आते, जिनमें से दो व्यक्ति बाहर रहकर गार्ड का पब्लिक डिलिंग का काम करते हैं। एक दो व्यक्ति एटीएम सीडीएम मशीन में घुसकर सीसीटीवी कैमरे से नजर छिपाते हुए गर्दन नीचे कर मशीन में एटीएम कार्ड स्वाइप कर मशीन में पिन डालकर रुपए की संख्या डाल देते थे।

वारदात के समय हथियार भी रखते थे साथ
पैसे निकालने के दौरान मशीन से जैसे ही नोट बाहर आते, तभी आरोपी ट्रे के ढक्कन को पकड़कर रोक लेते। इससे मशीन का सेंसर हैक हो जाता और आरोपी रुपए बाहर निकाल कर चले जाते। वहीं, मशीन उक्त रकम को पुन: उसी खाते में जमा दिखा देती। गैंग में शामिल अन्य साथी मोहम्मद आसिफ, ऐजाज खान उर्फ मुन्ना और मोसिम खान के साथ मिलकर जयपुर में कई वारदात की। आरोपी वारदात के दौरान हथियार भी साथ रखते हैं।






Show More












Source link

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RSS
Follow by Email